निफाज कमिटि के बैनर तले मनाया गया उर्दू दिवस 15 जनवरी से मैट्रिक के छात्रों को दी जायेगी उर्दू विषय का मुफ्त शिक्षा

 

आमस

प्रखण्ड के हमज़ापुर स्थित हाजी ज़हीर अनवर के आवास पर रविवार को अवामी उर्दू निफाज कमिटि के बैनर तले उर्दू दिवस मनाया गया। इस अवसर पर उर्दू आंदोलन के महानायक और प्रख्यात उर्दू पत्रकार स्वर्गीय ग़ुलाम सरवर के जन्मदिन पर उर्दू दिवस मनाया गया और कमिटि के सदस्यों द्वारा उन्हें श्रद्धाजंलि अर्पित की गई। उक्त कमिटि के अनुमंडलीय अध्यक्ष रिटायर्ड शिक्षक हाजी ज़हीर अनवर ने ग़ुलाम सरवर की जीवनी तथा उर्दू के लिए समर्पित जीवन पर विस्तारपूर्वक प्रकाश डाला। वहीं प्रमंडलीय अध्यक्ष जमशेद अशरफ ने अपने संबोधन में कहा कि ग़ुलाम सरवर सूबे में उर्दू आंदोलन को मज़बूत करने एवं इस भाषा के विकास के लिए अपनी पूरी जिंदगी क़ुर्बान कर दी। उनके ही कुर्बानियों का नतीजा है कि आज सूबे में उर्दू को द्वितीय राजकीय भाषा का दर्जा प्राप्त है। साथ ही उन्होंने कहा कि चालू माह के 15 तारीख़ से इलाके के मैट्रिक में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं को मुफ्त में उर्दू भाषा की तैयारी के लिए क्रैश कोर्स कराया जाएगा। इस अवसर पर उपस्थित उर्दू निफाज कमिटि के उपाध्यक्ष मो0 नसीमुद्दीन, सचिव कलामुद्दीन, संयुक्त सचिव हाजी अबु अरीबा, कोषाध्यक्ष नदीम अख़्तर, सदस्य इमरोज़ अली, रूमान बदर, अताउल्लाह अंसारी, आदिल हुसैन और अंजुमन उर्दू तरक़्क़ी शेरघाटी के सचिव मो0 अली आदि ने उर्दू भाषा के विकास व प्रचार-प्रसार पर जोर डाला।