बिजली आपूर्ति से त्राहिमान कलोनिवासी।

  भारत लगतार शुरुआत से ही बिजली, सड़क और पानी की समस्या रही है। जहाँ कुछ राज्यो के मुख्यमंत्री अपने राज्य के विकास को लेकर बड़े- बड़े दआवे करते हैं। और तो और भारत की मौजूदा सरकार दूसरे देशों को बिजली सप्लाई की बाते करती हैं लेकिन हाल तो पूरे भारत की पोल खोल के रख देता हे।जब बात बिजली और पानी की आये तो उत्तर प्रदेश का नाम न आये ये तो मुमकिन ही नही है। उत्तर प्रदेश बिजली और पानी निकासी के मामले मे बिल्कुल निल- बट्टा जीरो है। एसी ही समस्या उत्तर प्रदेश के ज़िला गाजियाबाद के लोनी की है। लोनी से सटे तक़रीबन 100 गाँव का बिजली और पानी के मामले मे बोहोत ही बुरा हाल है। लगातार कॉलोनी वासी इसकी शिकायत देते चले आ रहे हैं लेकिन अभी तक किसी भी अधिकारी के कान पर जूआँ नही चली है। बिजली का कोई वक्त नही है। लोगो का कहना है की अगर कोई ट्रांस फार्म फार्म जाता या तार वगैरा टूट जाती है तो पूरा पूरा दिन निकल जाता है लेकिन समस्या का कोई समाधान नही मिलता। बात अगर बिजली की यूनिट दर की कि जाये तो उत्तर प्रदेश मे सबसे मेहेंगी बिजली है। एसे मे सरकार की सारी पोल खुलती नज़र आ रही है। क्या वाकई सबका साथ सबका विकास हो रहा है एसे मे सरकार कटघरे मे खड़ी होती है आखिर उन वादों का क्या हुआ जो चुनाव से पहले किये गए थे। मुहम्मद जावेद हुसैन पत्रकार मुस्तफाबाद दिल्ली