अंडा खाना क्यों जरूरी हे ये शरीर के लिए कैसे फायपदेमंद है?

प्रतिदिन एक अंडा खाने के सलाह डॉक्टर आमतोर पर देते हैं इसके पिछे की वजह अंडा एक सुपर फूड है जिसमे प्रोटीन, कैल्शियम, ओमेगा-3 फैटी एसिड विटामिन ए व बी भरपूर मात्रा में होता है। रोजाना अंडा सेवन शरीर को कई गंभीर बीमारियों से दूर रखता है। मगर लोगो मे अंडे को लेकर दिमाग मे एक बात हमेशा चलती रहती है की आखिर कोनसा अंडा खाया जाय। कोनसा अंडा मतलब ब्राउन या व्हाइट। आइए सबसे पहले इन दोनों मे फ़र्क़ जानते हैं। व्हाइट यानि पोल्ट्री के अंडे जो की सफेद रंग के होते हैँ और ब्राउन या देसी अंडे जोकी हल्के भूरे रंग के होते हैं। ब्राउन अंडा, व्हाइट अंडे से ज्यादा हेल्दी होता है इसलिए लोग इन्हें खाना ज्‍यादा पसंद करते हैं। वहीं ब्राउन अंडे में प्रोटीन, कोलेस्टॉल और कैलोरी की मात्रा भी ज्यादा होता है। यही कारण है कि देसी अंडा थोड़ा महंगा भी मिलता है। क्‍या ब्राउन अंडा सच में है बेहतर? सभी अंडे साइज और कलर के बावजूद पौष्टिक रूप से एक जैसे होते हैं। सभी अंडों में लगभग एक बराबर ही विटामिन, मिनरल, प्रोटीन और कैलोरी होती है। फिर कैसे चुनें अंडे? भले ही अंडों के पौष्टिक तत्वों का फर्क उसके कलर से ना पड़े लेकिन मुर्गियों की डाइट से अंडों की पौष्टिकता पर असर पड़ता है। सूर्य के संपर्क में रहने वाली और अच्‍छा खाने वाली मुर्गियों के अंडों में सभी पोषक तत्‍व होते है। जबकि बंद कमरे और सही आहार ना मिल पाने वाली मुर्गियों के अंड़ों में कम पोषक तत्व होते हैं। विशेषज्ञो का मानना है की रोजाना एक अंडा खाने से कयी बीमारियों से बचा जा सकता है जैसे आंखों व दिमाग के लिए फायदेमंद। अंडे में कॉलिन नाम का पोषक तत्व होता है, जिससे सोचने-समझने की क्षमता बढ़ाती है। वजन कंट्रोल ब्रैस्ट कैंसर से बचाव:- अगर आप रोज़ाना अंडे का सवन सही से करेंगे तो ब्रैस्ट कैंसर से बचा जा सकता है। संडे हो या मंडे रोज खाओ अंडे। मुहम्मद जावेद हुसैन पत्रकार मुस्तफाबाद दिल्ली।