इंसानों से ज्यादा जानवरों की फिक्र है इलाहाबाद हाईकोर्ट को डॉक्टर शेख

अलीगढ़ वंचित समाज इंसाफ पार्टी बैठक में पार्टी के कार्यालय पर आयोजित की गई बैठक की अध्यक्षता पार्टी के जिलाध्यक्ष शकील कादरी नेकी बैठक को संबोधित करते हुए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर शेख ने कहा की इलाहाबाद हाईकोर्ट के जस्टिस शेखर कुमार को गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करने का जो बयान सामने आया है उससे लगता है कि अब अदालत भी इंसाफ देने में नाकाम हो रही है लोगों को जमानत देने में भी दिक्कत अदालत के सामने धर्म आड़े आ रहा है श्री शेख ने कहा की हम भी चाहते हैं गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित किया जाए लेकिन आज हर रास्ते पर हर रोड पर हर हाईवे पर गायों के जब नजर आते हैं इनसे कई बड़े एक्सीडेंट भी हो गए हैं और तमाम लोगों की जाने भी जा रही है सरकार को गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करके नियम लागू करने चाहिए कि जिन लोगों को गायों में आस्था है वह गाय जरूर पाले लेकिन गाय के नाम पर फंड को ना हड़ताल गौशालाओं के नाम पर फंड को ना खाएं गौशालाओं में गाय भूखी मरने के लिए मजबूर हैं और लोग बाग गायों को खुले रास्ते में छोड़ देते हैं अगर इंसान गाय को अपनी मां मानता है कृपया अपनी असली मां को भी इसी हालत में छोड़ सकता है मैं मैं सरकार से मांग करता हूं की नियम लागू करें और गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करें लेकिन बड़े अफसोस की बात है की गाय के ऊपर तमाम जज अपने विचार और फैसले ले रहे हैं लेकिन देश में जिस तरीके से मोगली सीन हो रही है और खास तौर से विशेष समुदाय को टारगेट किया जा रहा है वह शर्मनाक है और जिस पर तमाम सरकारें प्रधानमंत्री राष्ट्रपति मुख्यमंत्री मंत्री एमपी एमएलए और खास तौर से तमाम प्रदेशों के मुख्य न्यायाधीश चुप हैं और आरोपियों को भी तुरंत जमानत दे देते हैं यह बहुत ही अपने आप में शर्मनाक मुझे लगता है की इनके अंदर से इंसानियत और हक और इंसाफ मिट चुका है यह सिर्फ सत्ता हासिल करके क्या सत्ता हासिल करने के लिए देश के अंदर हिंदू मुस्लिम के नाम पर देश को बांटना चाहते हैं और नफरत पैदा करना चाहते हैं ऐसे तमाम व्यक्ति हैं जो खुलेआम एक विशेष समुदाय को टारगेट करते रहते हैं लेकिन शासन और प्रशासन चुप रहता है इससे साबित होता है इन लोगों को शासन और प्रशासन की शहर लगी हुई है आज देश में किसान आंदोलन में तमाम जाने जा चुकी हैं लेकिन कोई बोलने वाला नहीं कोई सुनने वाला नहीं देश में महंगाई चरम पर है लेकिन कोई बोलने वाला नहीं देश में बेरोजगारी चरम पर है कोई बोलने वाला नहीं देश में डीजल पेट्रोल के दाम आसमान छू रहे हैं कोई बोलने वाला नहीं इससे यह लगता है की आप सारा खेल सत्ता के लिए किया जा रहा है डॉक्टर शेख ने कहा की सरकार को देश में बढ़ रही मोब बिचिंग पर कानून बनाकर फांसी की सजा का प्रावधान करना चाहिए जिससे घटना को अंजाम देने वाले लोगों में डर पैदा हो सके इस मौके पर पार्टी के जिला अध्यक्ष शकील कादरी ने कहा वीआईपी पार्टी 2009 में भी जंतर मंतर पर धरना देकर सरकार से मांग कर चुकी थी की गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित किया जाए और हर तरह का मीट का एयरपोर्ट बंद किया जाए और जो लोग गाय को खुला छोड़ देते हैं उनकी वजह से होने वाला नुकसान गाय के मालिक से वसूला जाए सरकार आज देश में बढ़ रही महंगाई पर ध्यान दें जिससे कि गरीबों का मजदूरों का बेरोजगारों का भला हो सके जिस तरीके से दिल्ली में सादिया नाम की एक लड़की को मारा गया है और जिस तरह उसके जिस्म के टुकड़े किए गए हैं वह बहुत ही शर्मनाक है वीआईपी पार्टी दोषियों के लिए फांसी की मांग करती है और सभी धर्म और संप्रदाय के लोगों से अपील करती है कि ऐसे वहशी कोई भी हो किसी भी धर्म से हो बेटी चाहे किसी की भी हो उसको न्याय मिलना ही चाहिए और दोषियों को सजा मिलनी चाहिए इस मौके पर पार्टी के तमाम पदाधिकारी मौजूद रहे जिनमें मनसूर अली रफीक बबलू पेंटर सरदार सिंह कुशवाह नाजिम अली शेर एहसान करीम भाई आदि मौजूद रहे।