रोज़ ब रोज़ बढ़ती महंगाई और गैस की क़ीमतों में इज़ाफ़ा सरकार की जनता विरोधी पॉलिसी की विफ़लता है – कलीमुल हफ़ीज़

    सुषमा रानी नई दिल्ली 3सितंबर।मुफ़्त राशन की क़ीमत, रोज़ मर्रा की चीज़े और गैस की क़ीमतों में इज़ाफ़ा करके वसूल की जा रही है- एआईएमआईएम दिल्ली नई दिल्ली (प्रेस रिलीज़) 3 सितंबर 2021 चार हफ़्ते में एलपीजी गैस की क़ीमत में 50 रुपये प्रत्येक सिलेंडर पर इज़ाफ़ा कर दिया गया है । पिछले वित्तीय वर्ष 20-21 में ईंधन की क़ीमतों में कम से कम 67 बार इज़ाफ़ा किया गया है। देश में कोरोना की मार झेल रहे ग़रीब जनता पर ये ज़ुल्म है। ग़रीबो की हिमायत का दम भरने वाली सरकारें गरीबों का दम निकालने के दर पर हैं और अपने चंद सरमायादार दोस्तों को फ़ायदा पहुंचाने में लगी है रोज़-रोज़ बढ़ती महंगाई और गैस की क़ीमतों में इज़ाफ़ा सरकार की जनता विरोधी पॉलिसी की विफ़लता है। इन विचारों को ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन दिल्ली के अध्यक्ष कलीमुल हफ़ीज़ ने प्रेस को जारी एक बयान में व्यक्त किया। उन्होंने कहा एक तरफ राशन के नाम पर चंद किलो चावल, या गेहूं दिया जा रहा है तो दूसरी तरफ़ गैस और ईंधन की क़ीमतों में इज़ाफ़ा करके उन्हीं गरीबों से वसूल की जा रही है।कलीमुल हफ़ीज़ ने कहा कि अभी कोरोना की वजह से तबाह हाल कारोबार पटरी पर नहीं लौटे, अभी मज़दूर और रेहड़ी, ठेले वालों की आमदनी शुरु भी नहीं हुई,अभी गरीबों के चेहरों पर मुस्कान भी वापस नहीं आई, अभी उनके चूल्हे गर्म भी नहीं हुए कि केंद्र सरकार ने गैस सिलेंडर की क़ीमतों में इज़ाफ़ा करके गरीबों के चूल्हे ठंडे कर दिए। कलीमुल हफ़ीज़ ने कहा कि यह सब कुछ चंद कॉर्पोरेट दोस्तों को फ़ायदा पहुंचाने के लिए किया जा रहा है ताकि उनसे पार्टी फंड में चंदे के नाम पर बड़ी-बड़ी रकमें ली जा सके। केंद्र सरकार पूरे देश की संपत्ति बेचने में लगी है अफसोस तो यह है कि दिल्ली में आम आदमी की सरकार में आम आदमी ही महंगाई की मार झेल रहा है और बेवकूफ़ बन रहा है सरकार एक हाथ से उसे भीख दे रही है तो दूसरे हाथ से छीन रही है दिल्ली के मुख्यमंत्री महंगाई पर ख़ामोश तमाशाई का किरदार निभा रहे हैं अगर सरकारें अपने टैक्स कम कर दें तो महंगाई पर काबू पाया जा सकता है अगर मोदी जी और केजरीवाल जी अपने विज्ञापनों पर खर्च की जाने वाली रकम गरीबों के लिए छोड़ दें तो उन्हें राशन के साथ गैस सिलेंडर भी मुफ़्त दिया जा सकता है। मजलिस अध्यक्ष ने अंदेशा ज़ाहिर किया कि महंगाई अगर इसी तरह बढ़ती रही तो देश में चोरी और लूट के मामलों में इज़ाफ़ा होगा। मजलिस अध्यक्ष ने विपक्षी दलों से अपील की कि वह एकजुट होकर सरकार की जनता विरोधी पॉलिसी का विरोध करें।