कांग्रेस की मांगदिल्ली में 300 यूनिट बिजली फ्री, युवाओं को 7000 रुपये बेरोजगारी भत्ता और किसानों को ट्यूबवेल बिजली कनेक्शन फ्री – हारुन यूसूफ

सुषमा रानी नई दिल्ली, 22 सितम्बर।दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय राजीव भवन में आयोजित संवाददाता सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री हारुन यूसूफ ने कहा कि दिल्ली में भ्रष्टाचार के आंकठ में डूबी भाजपा और आम आदमी पार्टी एक दूसरे की पूरक की भूमिका निभा रहे है क्योंकि आगामी दिल्ली नगर निगम चुनावों के लिए भाजपा जिन भ्रष्ट निगम पार्षदों को अपनी पार्टी से निकाल रही है, आम आदमी पार्टी उन भ्रष्ट निगम नेताओं को अपनी पार्टी की सदस्यता देने में प्राथमिकता दिखा रही है। उन्होंने कहा कि दिल्ली के मुखिया अरविन्द केजरीवाल जिन्होंने भ्रष्टाचार मुक्त और पारदर्शी प्रशासन की दुहाई देकर दिल्ली की सत्ता हासिल की थी, अब आधे से अधिक मंत्री और विधायक जो अपराधिक मामलों में लिप्त है उनको बचाने का काम कर रहे है।संवाददाता सम्मेलन में हारुन यूसूफ के साथ परवेज आलम भी मौजूद थे। संवाददाता सम्मेलन में हारुन यूसूफ ने कहा कि आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल दिल्ली छोड़ उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और गोवा में आगामी विधानसभा चुनावों के लिए यहां के लोगां को गुमराह करने के लिए 300 यूनिट बिजली फ्री, रोजगार गांरटी और बेरोजगारी भत्ता देने जैसे वायदे करके सीधा सत्ता हथियाने का हथकंडा अपना रहे है, जबकि उन्हें पिछले गोवा के परिणामों पर ध्यान देना चाहिए जिसमें उनके उम्मीदवारां जमानत जब्त हो गई थी। श्री यूसूफ ने कहा कि अरविन्द केजरीवाल अपनी सभी योजनाऐं विज्ञापनों के जरिए चलाते है, ताकि सरकार की उपलब्धियां वास्तविकता की जगह विज्ञापनों में चमकती दिखाई दें। उन्होंने कहा कि रोजगार देने की बात करने वाले केजरीवाल की दिल्ली में सच्चाई आरटीआई के माध्यम उजागर हुई कि उन्होंने 6 सालों में मात्र 440 लोगों को रोजगार मुहैया कराया, जबकि दिल्ली सरकार द्वारा जारी जॉब पोर्टल पर 18 लाख से अधिक बेरोजगारों ने आवेदन किया। श्री हारुन यूसूफ ने अरविन्द केजरीवाल से दिल्ली कांग्रेस की ओर से मांग रखी कि उत्तराखंड और गोवा में बेरोजगारी भत्ता और 300 यूनिट बिजली फ्री की घोषणा की बजाए दिल्ली में 300 यूनिट बिजली फ्री दे व बेरोजगार युवाओं को 7000 रुपये प्रतिमाह देने की घोषणा करें और दिल्ली के किसानों को ट्यूबवेल के बिजली कनेक्शन फ्री दिए जाऐ। उन्होंने कहा कि केजरीवाल की गोवा में की गई घोषणा कि 15 साल तक रहने वाले परिवारों के युवाओं को 80 प्रतिशत तक रोजगार में आरक्षण दिया जाऐगा, दिल्ली में उनकी सरकार होने के बावजूद भी क्यों नही लागू करते? उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के बेरोजगार युवाओं को 5000 रुपये और गोवा के युवाओं को 3000 रुपये प्रतिमाह देने की घोषणा के पीछे केजरीवाल की आखिर मंशा क्या है, बेरोजगारी भत्तें में अंतर क्यों? हारुन यूसूफ ने कहा कि अरविन्द केजरीवाल दिल्ली को लूट कर दूसरे राज्यों में चुनाव प्रचार और बड़ी-बड़ी बैठकों के आयोजन में लगा रहे है। उन्होंने कहा कि बिना योजना यूपी, उत्तराखंड और गोवा में फ्री योजनाओं की घोषणा करना केजरीवाल की परम्परा बन चुकी है, जिसका परिणाम दिल्लीवासी भुगत रहे है। उन्होंने कहा कि बिना सत्ता में आए सब कुछ फ्री देने की घोषणाओं से साफ हो रहा है कि केजरीवाल दिल्ली का पैसा यूपी, उत्तराखंड और गोवा के चुनाव प्रचार में लगा रहे हैं हारुन यूसूफ ने कहा कि कि अरविन्द केजरीवाल पांच प्रदेशों में आगामी विधानसभा चुनावों में राजनीतिक अकांक्षाओं व उदेश्यों की पूर्ति के लिए गांरटी कार्यक्रम की घोषणा कर रहे है परंतु उन्हांने पिछले 7 वर्षों में दिल्लीवालों से किए हुए अधिकांश वायदे पूरे ही नही किए। उन्होंने कहा कि केजरीवाल फ्री बिजली-पानी के नाम पर बढ़े हुए बिल भेज रहे है, घर-घर राशन योजना, युवाओं को 8 लाख रोजगार देने का वायदा किया था। उन्होंने कहा कि केजरीवाल के शासन में 11 लाख राशन कार्ड पेंडिग पड़े है। उन्हांने कहा कि कांग्रेस के शासन में 30 लाख राशन कार्डधारी थे। जो केजरीवाल शासन में केवल 17 लाख रह गई है।