महिला बैंक कर्मी ने किया सुसाइड पुलिस वाले का नाम आया सामने

  मनोज टंडन/ब्यूरो अयोध्या31 अक्टूबर।उत्तर प्रदेश के अयोध्या में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. यहां के कोतवाली नगर क्षेत्र के व्यस्ततम इलाके खवासपुरा में एक बैंक अधिकारी युवती की आत्महत्या की घटना सामने आई है. बैंक अधिकारी ने अपने कमरे में दुपट्टे के सहारे फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या की है. मृत बैंक अधिकारी श्रद्धा गुप्ता पिछले पांच वर्षों से अयोध्या में रह रही थीं. इस दौरान वह पंजाब नेशनल बैंक के रीजनल ऑफिस और खवासपुरा शाखा में भी तैनात रही. मृत बैंक अधिकारी ने अपने सुसाइड नोट में तीन लोगों के नाम का जिक्र किया है जिसमें एक पुलिसकर्मी भी शामिल है मृत महिला बैंक अधिकारी के भाई रितेश गुप्ता ने बताया कि कल रात से वह अपनी बहन को फोन मिला रहे थे, लेकिन वह फोन नहीं उठा रही थी. रात में उन्होंने सोचा कि बहन सो गई होगी, इसलिए उन्हें कोई चिंता नहीं हुई. सुबह भी जब फोन करने पर उनकी बहन ने फोन नहीं उठा तब उन्होंने मकान मालिक को फोन कर अपनी बहन से बात कराने की बात कही, जिसके बाद पूरा प्रकरण सामने आया सुसाइड नोट में एक पुलिसकर्मी का भी नाम,मौके पर जब पुलिस पहुंची तब मृत महिला बैंक अधिकारी के कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था, मकान मालिक ने जब रोशनदान से देखा तो उसके होश उड़ गए. लड़की दुपट्टे से लटकी दिखाई पड़ी. आनन-फानन में मकान मालिक ने युवती के परिजन को फोन किया जिसके बाद वह अयोध्या पहुंचे. परिजन और पुलिस की मौजूदगी में दरवाजा खोला गया, जिसके बाद परिजनों में कोहराम मच गया. पुलिस को मिले सुसाइड नोट में तीन नाम बताए गए हैं, जिसमें विवेक गुप्ता, आशीष तिवारी एसएसएफ लखनऊ और पुलिसकर्मी अनिल रावत के नाम लिखे मिले हैं। वहीं, एसएसपी शैलेश पांडे ने बताया कि युवती के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट और जांच में जो भी आएगा. वह विधिक कार्रवाई की जाएगी. यह तीन कौन लोग हैं इसकी भी जांच की जा रही है. उनसे भी पूछताछ की जाएगी कि किस तरह से युवती इन लोगों से प्रताड़ित हो रही थी।