आज 26 नवम्बर 2021 को भारत मे 71वां सविंधान दिवस मनाया गया।

  जावेद हुसैन पत्रकार। आज पूरा देश सविंधान दिवस मना रहा है इसी के साथ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुबह 11 बजे संसद के सेंट्रल हॉल और शाम 5.30 बजे विज्ञान भवन में संबोधन देंगे। लेकिन काँग्रेस समेत लगभग 14 दलों ने इस कार्यक्रम मे शिरक़त करने से इंकार कर दिया है। भारतीय संविधान को 26 जनवरी 1950 को लागू किया गया था। इसके बाद, बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की 125वीं जन्म-दिवस के अवसर पर वर्ष 2015 में 26 नवंबर को संविधान दिवस के तौर पर मनाये जाने का एलान किया गया था तभी से हर साल 26 नवम्बर को सविंधान दिवस बड़ी धूम धाम से मनाया जाता है। इस सविंधान को तैयार करने मे कुल 2 साल 11 महीने 18 दिन का समय लगा। भारतीय सविंधान हर आज़ाद भारतीय नागरिक को समता यानी बराबर का अधिकार देता है।इस सविंधान को लिखने का मकसद जात- पात, धर्म के आधार पर भेदभाव को खत्म कर्ज सभी नागरिकों को हर एक कार्यों और लाफ मे बराबरी का अधिकार दिया गया है।