इंदौर के बहुचर्चित मारपीट मामले में तसलीम चूड़ी वाले को जमानत

  मनोज टंडन/ब्यूरो 7 दिसम्बर,इमरान प्रतापगढ़ी की कोशिश के बाद पीड़ित को 106 दिन बाद मिला इंसाफ (Sub Heading) इंदौर के चर्चित तसलीम चूड़ीवाला कांड में हाईकोर्ट ने तसलीम की ज़मानत मंजूर कर ली है तसलीम चूड़ीवाला जो उत्तर प्रदेश के हरदोई का रहने वाला है और इंदौर में रहकर चूड़ियां बेचकर अपनी रोजी रोटी कमाता है बीते 22 अगस्त 2021 को तसलीम जब इंदौर के बाड़गंगा इलाके में चूड़ी बेच रहा था तब ही कुछ लोगो ने उसपर हमला करते हुए मारपीट की। तसलीम की पिटाई का ये वीडियो सभी जगह वायरल हो गया वीडियो वायरल होने के बाद भी अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष इमरान प्रतापगढ़ी के दखल और काफी प्रयासों के बाद पुलिस ने मामले को दर्ज किया क्योंकि प्रदेश की भाजपा सरकार और उसके नेता आरोपियों को बचाना चाहते थे और आरोपियों को भाजपा नेताओं का संरक्षण हासिल था और मामला दर्ज होने के दो दिन बाद पुलिस ने भाजपा सरकार के दबाव में आकर पीड़ित के खिलाफ ही छेड़छाड़ का मामला दर्ज करके तसलीम को जेल भेज दिया इस मामले का संज्ञान लेते हुए अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष इमरान प्रतापगढ़ी ने मामले की गंभीरता को देखते हुए मध्य प्रदेश अल्पसंख्यक विभाग को निर्देशित किया कि इस मामले में पीड़ित तसलीम की हर संभव कानूनी मदद की जाए क्योंकि ये मामला पहली नजर में मॉब लिंचिंग का प्रतीत होता है इमरान प्रतापगढ़ी के निर्देश पर एडवोकेट अलीम शेख ने मामले की पैरवी शुरू की और बताया कि जिस तरह पुलिस मौजूदा सरकार के कहने पर पीड़ित को ही आरोपी बना रही है वो निंदनीय है,आज हाईकोर्ट ने इस मामले में इंसाफ दिया और जिस तरह पूरी मजबूती के साथ कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग इस प्रकरण में पूरी मजबूती के साथ खड़ा रहा उसके लिए इमरान प्रतापगढ़ी और कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग बधाई के पात्र हैं।इस मामले में अलीम शेख एडवोकेट के साथ वकील एहतेशाम हाशमी,दीपक बुंदेला,ज्वलंत सिंह और विधायक आरिफ मसूद जी ने सराहनीय मदद की