वींकेड लॉकडाउन लागू करने से आहत गरीब, दिहाड़ी मजदूर, रेहड़ी पटरी तथा छोटे कारोबारियों को आर्थिक सहायता दे सरकार।- अनिल भारद्वाज

    मनोज टंडन नई दिल्ली, 4 जनवरी,  दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कम्यूनिकेशन विभाग के चैयरमेन एवं पूर्व विधायक श्री अनिल भारद्वाज ने कहा कि आज दिल्ली में कोविड संक्रमण के बढ़ते प्रसार और स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की बदहाल स्थिति के लिए अरविन्द केजरीवाल पूरी तरह से जिम्मेदार है क्योंकि दिल्लीवासियों के प्रति वे अपना कर्तव्य निर्वहन करने में पूरी तरह से विफल साबित हुए और दो दिवसीय सत्र से पूरी तरह नदारद रहे। उन्होंने कहा कि संक्रमण और आर्थिक संकट के दौर से जूझ रही दिल्ली के विधानसभा सत्र में लोगों के कल्याणकारी हितों का एजेंडा कही नजर नही आया, सिर्फ दिल्ली के करदाताओं का पैसा बर्बाद किया गया। उन्हांने कहा कि केजरीवाल मौजूदा समस्याओं का समाधान करने में विफल रहे है, सरकार भ्रष्टाचार में डूबी है, विफलताओं के लिए केन्द्र सरकार पर आरोप लगाते है, दिल्ली को भगवान भरोसे छोड़ दूसरे राज्यों में राजनीति जमाने के लिए कोविड मापदंडों का उलंघन करके चुनाव प्रचार कर रहे है। प्रदेश कार्यालय राजीव भवन में आयोजित संवाददाता सम्मेलन को श्री अनिल भारद्वाज के साथ कम्यूनिकेशन विभाग के वाईस चैयरमेन परवेज आलम मौजूद थे। मीडिया कमेटी के चैयरमेन श्री अनिल भारद्वाज ने कहा दो दिवसीय विधानसभा सत्र में  दिल्ली के ज्वलंत मौजूदा मुद्दों पर चर्चा होनी चाहिए थी उनमें कोरोना सहित ओमीक्रॉन के बढ़ते मामले, नई आबकारी नीति व डीटीसी में हुए भ्रष्टाचार, बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी, गेस्ट शिक्षक, चरमराई सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था, मौहल्ला क्लीनिकों में गलत दवाई से गरीब बच्चों की मौत, प्रदूषण, गरीबां को राशन कार्ड जारी करना, व निगम कर्मचारियों सहित कोरोना यौद्धाओं को वेतन देने आदि मुद्दे शामिल किए जाने चाहिए थे। श्री अनिल भारद्वाज ने कहा कि आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार कोविड संक्रमण की तीसरी लहर की तैयारियों के लिए पूरी तरह असफल दिख रही है, जबकि राजधानी में तीसरी लहर दस्तक दे चुकी है।  अस्पतालों में डाक्टरों की भारी कमी है और जो डाक्टर और पेरामेडिकल स्टाफ है वो भी संक्रमित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि आईसोलेशन में रहने वाले मरीजों के लिए व्यवस्था नही है तथा एम्बुलेंस की भारी कमी है। उन्होंने कहा कि दूसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी से हजारों लोगों की मृत्यु हुई थी, केजरीवाल जवाब दे की ऑक्सीजन टैंकर कितने खरीदे?  श्री भारद्वाज ने कहा कि दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने ग्रेप लागू होने के बाद ही मुख्यमंत्री से सर्वदलीय बैठक की मांग की थी, जिस पर उन्होंने कोई गौर नही किया। श्री अनिल भारद्वाज ने कहा कि दिल्ली सरकार द्वारा नई शराब नीति को लागू करने रुपरेखा 2016 में ही बना ली गई थी जिसका खुलासा आम आदमी पार्टी के संस्थापक सदस्य कुमार विश्वास ने कर दिया। कुमार विश्वास ने ट्वीट करके सीधे-सीधे 500 करोड़ के भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है, यह किसी से छुपा नही है कि उनका इशारा किसकी तरफ है। श्री भारद्वाज ने शराब नीति में हुई डील की उच्च स्तरीय जांच की मांग की। श्री अनिल भारद्वाज ने कहा कि अरविन्द केजरीवाल चुनावी पर्यटन पर आगामी विधानसभा चुनाव होने वाले सभी राज्यों में युवाओं को रोजगार, बेरोजगारी भत्ता, महिलाओं को मासिक आर्थिक मदद तथा विशेषकर पंजाब में गेस्ट टीचरों व अस्थायी कर्मचारियों को नियमित करने का झूठा और गुमराह करने वाला चुनावी वायदा कर रहे है जबकि पिछले 7 वर्षों में दिल्ली के लोगों से 3 चुनावों में यही वायदे करते आ रहे है और दिल्ली के 22,000 गेस्ट टीचर स्थायी करने की मांग को लेकर लगातार संघर्ष कर रहे है। केजरीवाल दिल्ली के युवाओं, महिलाओं के साथ सौतेला व्यवहार क्यों कर रहे है? क्यों नही युवाओं को बेरोजगारी भत्ता और महिलाओं को आर्थिक सहायता की घोषणा करते? श्री भारद्वाज ने कहा कि कोविड के बढ़ते मामलों के चलते दिल्ली सरकार ने अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए पहले येलो अलर्ट और वीकेंड लॉकडाउन की घोषणा कर दी है जिसके बाद पैदा होने वाले हालात पर अरविन्द केजरीवाल को अपनी नैतिक जिम्मेदारी निभाते हुए गरीब, दिहाड़ी मजदूर, रेहड़ी पटरी तथा छोटे कारोबारियों के लिए तुरंत राहत पैकेज में 10 हजार रुपये आर्थिक मदद करने की घोषणा करनी चाहिए ।