NDTV के वरिष्ठ पत्रकार कमाल खान का दिल का दौरा पड़ने से निधन।

  कमाल खान नाम पत्रकारिता के क्षेत्र मे किसी पहचान का मोहताज नहीं है। उत्तर प्रदेश के लखनऊ से ब्यूरो हेड रहे कमाल खान अपनी बेहतरीन करीशैली,बोलने का लहजा, शब्दों का वर्णन, समझाने का तरीक़ा एक छोटे विषय को भी बोहोत बारीक़ी से समझाना ही उन्हें कमाल खान बनाती है।उन्होंने पूरी मेहनत और इमानदारी के साथ सिर्फ देश हित के लिए अपनी बेहतर पत्रकारिता की।शुक्रवार सुबह उन्हे दिल का दौरा पड़ने से उनकी मौत हो गयी पत्रकारिता के क्षेत्र मे ये एक बोहोत बड़ा नुकसान है। कमाल इस वक़्त 61वर्ष के हो चुके थे। शुक्रवार तमाम उत्तर प्रदेश और देश ही नही बल्कि पूरी दुनिया की पत्रकारिता को एक झटका महसूस हुआ।शुक्रवार की शाम ही उन्हें सुपूर्दे खाक़ किया गया। इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने श्रर्धांजलि दी। स्टार न्यूज़ की जानिब से कमाल खान को श्रर्धांजलि। (आसान नही है कमाल खान होना)