Headlines

बिहार विधानमंडल का मॉनसून सत्र शुरू शराबबंदी संशोधन विधेयक सदन में पेशए सत्र के हंगामेदार होने के आसार

बिहार विधानमंडल का मॉनसून सत्र शुरू  शराबबंदी संशोधन विधेयक सदन में पेशए सत्र के हंगामेदार होने के आसार

अशरफ अस्थानवी
पटना रू बिहार विधानमंडल के दोनों सदनों का मॉनसून सत्र आज से शुरू हो गयाण् ये संक्षिप्त सत्र 26 जुलाई तक चलेगा। आज सदन की कार्यवाही उच्य सदन बिहार विधान परिषद के सभा पति मो हारून रशीद तथा विधान सभा अध्यक्ष विजय चौधरी के संबोधन के साथ शुरू हुईण् उसके बाद दोनों सदनों में दिवंगत सदस्यों को श्रद्धांजलि देने के बाद पहले दिन की कार्यवाही समाप्त हो गयीण् इस दौरान सरकार ने राज्यपाल से स्वीकृत विधेयकों को सदन के समक्ष रखाण् विपक्ष के कड़े तेवर को देखते हुए लगता है कि सदन की कार्यवाही के दौरान विपक्ष सदन में सरकार को घेरने की पूरी कोशिश करेगाण्
बिहार विधानमंडल में पहले दिन आज राज्यपाल द्वारा स्वीकृत विधेयकों को सदन में पेश किया गयाण् वहींए विधानसभा अध्यक्ष ने अध्यासी सदस्यों का मनोनयन और कार्यमंत्रणा समिति का गठन कियाण् उप मुख्यमंत्री सह वित्त मंत्री सुशील कुमार मोदी ने वित्तीय वर्ष 2018.19 के लिए प्रथम अनुपूरक व्यय विवरण को सदन पटल पर रखाण् तो दूसरी ओर परिषद में सवस्थ मंत्री मंगल पांडेय ने वित्तीय वर्ष 2018.19 के लिए प्रथम अनुपूरक व्यय विवरण को सदन पटल पर रखाण् इसके बाद दिवंगत सदस्यों को श्रद्धांजलि दी गयीण् साथ ही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी गयीण् सदन की कार्यवाही के दौरान सरकार की ओर से शराबबंदी संशोधन विधेयक भी सदन में पेश किया गयाण्
सदन की करवाई शुरू होते ही बिहार विधान परिषद् के सभा पति हारून रशीद ने राज्य सरकार की कई उपलब्धियों पर विस्तार से प्रकाश डाला। तथा सदस्यों से राज्य की जनता के हित में समस्याओं को उठाने और उस के समाधान के लिए सरकार बाध्य करने के लिए कहा।
सोमवार से फिर सदन की करवाई चलेगी क़यास लगाया जा रहा है की विपक्ष राज्य में बिगड़ती हुई विधि व्यस्था बलात्कार लूट भ्रष्टाचार और अन्य घोटालों पर सरकार को पूरी तरह से घेरेगा। तो सत्ता रूढ़ दल के लोग भी विपक्ष हमला आवर तेवर पर चुप नहीं रहेगा।

इसी बीच विधान मंडल में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने मोदी सरकार के अविश्वास प्रस्ताव पर टिपणी करते हुए कहा है भले ही सरकार बल के आधार पर बच जाएए लेकिन जनता की नजर में गिर गई है राजद नेता तेजस्वी यादव ने आज कहा कि अविश्वास प्रस्ताव से केंद्र की सरकार गिरे या न गिरेए लेकिन जनता की नजर गिर गई है। विधानसभा परिसर में मीडिया से बात करते हुए तेजस्वी ने कहा कि संसद में अविश्वास प्रस्ताव लाने के साथ विपक्ष एकजुट हुआ है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार लगातार जनता के प्रश्नों का जवाब देने से बचती रही है। अब उन्हें जवाब देना पड़ेगा।