Headlines

एक मुश्त वार्डों को मिलेगी पेयजल योजना की राशि

एक मुश्त वार्डों को मिलेगी पेयजल योजना की राशि
सीतामढ़ी.मो.सदरे आलम नोमानी
सीतामढ़ी : डीएम डॉ रणजीत कुमार सिंह सात निश्चय के तहत ग्रामीण क्षेत्रों के वार्डों में चल रहे हर घर जल नल योजना की पूरी राशि एक मुश्त वार्ड के खाते में डालने का आदेश दिया है. उक्त आदेश सभी बीडीओ को जारी किया गया है. यहां बता दे कि वार्ड महासंघ के जिलाध्यक्ष रामप्रवेश यादव की पहल पर डीएम ने पेयजल की योजनाओं के लक्ष्य को पूरा करने के साथ ही त्वरित गति से योजनाओं को कराने के लिए एक मुश्त राशि वार्डों के खाते में डालने का पत्र जारी किया है.
राशि के आभाव में कार्य लंबित
बताया गया है कि अबतक मुखिया प्राक्कलित राशि का 50 से 60 फीसदी ही वार्डों को देते रहे है. उक्त राशि से कार्य कराने के बाद अगली क़िस्त की राशि के लिए काफी पापड़ बेलने पड़ते है. सच्चाई यह भी है कि राशि के आभाव में कई वार्डों में कार्य लंबित चल रहा है, तो कहीं कार्य पूरा होने के बाद भी मुखिया से शेष राशि लेने में संबंधित वार्ड सदस्य के पसीने छुट रहे है. अब माना जा रहा है कि डीएम के उक्त आदेश के बाद वार्ड सदस्यों को योजना की राशि के लिए मुखिया का चक्कर नही काटना पड़ेगा. साथ ही एक मुश्त राशि मिलने पर काम में भी तेजी आयेगी. बता दे कि उक्त योजना की उपलब्धि के मामले में सूबे में यह जिला काफी पीछे चल रहा है.
योजना लाखों की, राशि मिली हजार में
वार्ड सदस्य महासंघ के जिलाध्यक्ष रामप्रवेश यादव कहते है कि अधिकांश मुखिया द्वारा वार्डों को 50 से 60 फीसदी राशि दी गयी है. वहीं, परसौनी प्रखंड के परसौनी खिरौधर पंचायत के एक वार्ड को 20 हजार , तो दूसरे वार्ड को 30 हजार रूपये दिया गया है, जबकि योजना लाखों की है. सुरसंड प्रखंड के विभिन्न वार्डों में 15 लाख की योजना के लिए मात्र चार-पांच लाख रूपये दिये गये है. श्री यादव की माने तो परिहार प्रखंड की परिहार उत्तरी पंचायत में किसी भी वार्ड को एक चवन्नी तक नही दी गयी है. बताया कि डुमरा के मिर्जापुर के वार्ड आठ में नल जल योजना का विधायक उद्घाटन कर चुके है, लेकिन शेष राशि वार्ड के खाते में अबतक नही भेजी गयी है. कुछ इसी तरह का हालात और भी वार्डों में है.