Headlines

GAYA में बंद का रहा मिलाजुला असर। Belaganj में हुए उग्र प्रदर्शन में फ़ायरिंग व रोड़ेबाज़ी।

GAYA में बंद का रहा मिलाजुला असर। Belaganj में हुए उग्र प्रदर्शन में फ़ायरिंग व रोड़ेबाज़ी।
 
GAYA (Faisal Rahmani / Star News Today) : एससी/एसटी एक्ट के ख़िलाफ़ विभिन्न सवर्ण संगठनों ने गुरुवार को भारत बंद का आह्वान किया था। इस बंद का बिहार के गया ज़िले में मिलाजुला असर रहा। वैसे तो गया शहर में बंद का असर देखने को नहीं मिला लेकिन ज़िले के बेलागंज, वज़ीरगंज और इमामगंज आदि प्रखंडों में बंद का असर साफ़ दिखाई दिया। सबसे ज़्यादा असर बेलागंज में पड़ा।
बेलागंज में एनएच-83 पर सड़क जाम के दौरान बंद समर्थकों और पुलिस के बीच झड़प हुई। बंद समर्थकों ने पुलिस बल पर रोड़ेबाज़ी में कई पुलिसकर्मियों के घायल होने की भी सूचना है। रोड़ेबाज़ी के बाद पुलिस ने पांच राउण्ड हवाई फ़ायरिंग की। घटना की जानकारी मिलते ही एएसपी, सदर एसडीओ सूरज कुमार सिन्हा, डीएसपी लॉ एंड ऑर्डर संजीत कुमार प्रभात, चन्दौती सर्किल के पुलिस निरीक्षक अशोक कुमार गुप्ता, बीडीओ बब्लू कुमार, सीओ सत्येन्द्र कुमार मधुकर सहित चाकन्द थानाध्यक्ष, मेन थानाध्यक्ष पाई बिगहा ओपी अध्यक्ष सहित कई पुलिस और प्रशासनिक पदाधिकारियों ने बेलागंज पंहुचकर स्थिति को नियतंत्रित किया।
जानकारी के अनुसार, भारत बंद के दौरान बेलागंज में बंद समर्थकों ने बेल्हाड़ी मोड़ के पास सड़क जाम किया। इस दौरान पुलिस के हस्तक्षेप से बंद समर्थकों में आक्रोश बढ़ गया और पुलिस के विरुद्ध नारेबाज़ी की साथ ही पुलिस पर पथराव भी किया। पुलिस ने रोड़ेबाज़ी के बाद पांच राउण्ड हवाई फ़ायरिंग की। हालांकि, किसी भी पुलिस पदाधिकारी ने फ़ायरिंग और रोड़ेबाज़ी में ज़ख़्मी पुलिसकर्मियों की तादाद के बारे में विस्तार से जानकारी नहीं दी। इस बीच बंद समर्थकों के पथराव में शैक्षिक परिभ्रमण पर जा रही बस बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। उसके शीशे टूट गए। इतना ही नहीं, पथराव से कई छात्र भी ज़ख़्मी हो गए।
चश्मदीदों ने बताया कि पुलिस ने बंद समर्थकों को खदेड़ते हुए पास के सियाराम कॉलोनी के दर्जनों घर में घुसकर महिलाओं और बच्चों की भी पिटाई की। बंद समर्थकों ने नाम नहीं छापने के शर्त पर बताया कि बंद शांतिपूर्ण और स्वतःस्फ़ूर्त था। लेकिन, पुलिस के अनावश्यक हस्तक्षेप से माहौल अशांत हो गया।
वहीं, वज़ीरगंज में भी बंद समर्थकों ने पूरा हॉल्ट पर ट्रेन रोककर व सड़क जाम कर विरोध प्रकट किया। दूसरी ओर, इमामगंज-शेरघाटी मुख्य मार्ग पर डुमरिया मोड़ पर सड़क जाम कर टायर जला कर बंद समर्थकों ने प्रदर्शन किया।