Headlines

नियाजुल आरफीन बने डीएसस के जिलाध्यक्ष,

नियाजुल आरफीन बने डीएसस के जिलाध्यक्ष,
बेगूसराय:26 साल के युवा तेज प्रताप ने ग़ैर राजनीतिक संगठन धर्मनिरपेक्ष सेवक संघ (डीएसएस) का गठन कर आरएसएस से मुक़ाबला करने का ऐलान कर दिया है।
वे डीएसएस के माध्यम से अब आरएसएस को वैचारिक और व्यवहारिक चुनौती देंगे। वे कहते हैं, “राम के नाम पर हिन्दू-मुसलमान भाइयों को लड़ाने का षड्यंत्र चला रहा है। इसी सोच को समाप्त करने के लिये डीएसएस की स्थापना साल 2015 के 14 जनवरी को की गयी थी”
उन्होंने कहा, “हमारा काम राज्य के 15 ज़िलों में शुरू हो चुका है। जबकि, तमिलनाडु, गुजरात, झारखंड, केरल में संगठन के प्रसार के लिए राज्य प्रमुख नियुक्त किए जा चुके हैं.”
इसी क्रम में आज बेगुसराय ज़िले का भी खाता खुल गया, युवा डीएसएस प्रदेश अद्यक्ष फ़ैज़ खान के निर्देशानुसार बेगुसराय ज़िला में आज डीएसएस का गठन हो गया,
बेगुसराय युवा डीएसएस का गठन आज दिनांक 8/9/2018 को दिन के 3 बजे बलिया लखमिनिया के सोनी रेस्टुरेंट के सेमिनार हाल में किया गया, जहां युवा डीएसएस के प्रदेश सचिव श्री निशात नैय्यर साहब द्वारा सर्टिफिकेट वितरण किया गया,
युवा डीएसएस ज़िला अध्यक्ष का पद लखमिनिया निवासी मो नियाजुल आरफीन को दिया गया वही युवा डीएसएस महानगर अध्य्क्ष का भार पंचवीर निवासी डॉ आदील साहब के कंधों पे दी गयी।
दोनों युवाओ ने सैकड़ो भीड़ के सामने आज संकल्प लिया और कहा कि इस देश में आरएसएस के द्वारा जो नफरते फैलाई जा रही है उस नफरतों को हम हिन्दू मुश्लिम सिख ईसाई मिलकर जड़ से मिटाएंगे।
प्रदेश सचिव निशात नैयर ने कहा कि अभी अभी युवा डीएसएस का गठन ज़िला में हुआ है अब ज़िले के सातों विधानसभा, के हर पंचायत और हर वार्डो में इसका विस्तार करेंगे।