Headlines

भीम सेना अध्यक्ष का विवादित बयान, कहा- कोर्ट का फैसला चाहे जो हो, बाबरी मस्जिद वहीं बनेगी

भीम सेना अध्यक्ष का विवादित बयान, कहा- कोर्ट का फैसला चाहे जो हो, बाबरी मस्जिद वहीं बनेगी
कानपुर 15 अक्तूबर(स्टार न्यूज़ टुडे/जियाउद्दीन अहमद अली सिद्दीकी)संवाददाता की रिपोर्ट
कानपुर में मुस्लिम और दलित एकता अधिवेशन का आयोजन किया गया. जिसमें कई मुस्लिम संगठनो और सामाजिक संस्थाओ ने भी हिस्सा लिया. अधिवेशन में राजेंद्र मान भी हिस्सा लेने पहुंचे थे
कानपुर: 2019 चुनाव के नजदीक आते ही राम मंदिर का मुद्दा एक बार फिर गरमा गया है. इस बार भीम सेना प्रमुख राजेंद्र मान ने इस मुद्दे पर विवादित बयान दिया है. कानपुर में मुस्लिम और दलित एकता अधिवेशन में अयोध्या विवाद पर बोलते हुए भीम सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेंद्र मान ने कहा, “बाबरी मस्जिद जहां पर थी वहीं बनेगी. कोर्ट का फैसला कुछ भी हो इससे हमें कोई मतलब नहीं है. जिस तरह हमने एससी/एसटी ऐक्ट को नहीं माना था. उसी तरह हम बाबरी मामले को भी नहीं मानेंगे
बाबरी मस्जिद जहां थी वहीं बनेगी यह भीम सेना का मुस्लिम संगठनो को आश्वासन है. यह भीम सेना का वादा है और भीम सेना जो वादा करती है उसे पूरा करती है. बाबरी मस्जिद वहीं बनेगी चाहे कोई कितना भी जोर लगा ले
कानपुर में मुस्लिम और दलित एकता अधिवेशन का आयोजन किया गया. जिसमें कई मुस्लिम संगठनो और सामाजिक संस्थाओ ने भी हिस्सा लिया. अधिवेशन में राजेंद्र मान भी हिस्सा लेने पहुंचे थे. इस मौके पर मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा, “पहले बाबरी मस्जिद वहां थी सुन्नी वक्फ बोर्ड और अन्य मुस्लिम संगठनों ने अपने दस्तावेज कोर्ट में पेश कर दिए थे. वो दस्तावेज कोर्ट के अंदर है जब मस्जिद वहां बनी थी तो मस्जिद वहीं ही बनेगी. कानून के हिसाब से और संविधान के हिसाब से. हम सुप्रीम कोर्ट का फैसला तब मानेंगे जब सुप्रीम कोर्ट वहां मस्जिद बनने का ऑर्डर करे, वर्ना सुप्रीम कोर्ट का फैसला हम नहीं मानेंगे. सुप्रीम कोर्ट अगर सरकार के दबाव में आकर कोई फैसला करता है तो हम उसको नहीं मानेंगे, जिस तरह से हमने एससी/एसटी ऐक्ट में नहीं माना था. क्योंकि वो हमारा मौलिक अधिकार है उसको हम नहीं छोड़ेंगे
राजेंद्र मान ने ये भी दावा किया कि 2019 में दलितों का कोई वोट नहीं बंटेगा. उन्होंने कहा, “हम लोग 24 अक्टूबर को मध्य प्रदेश के अन्दर एक प्रोग्राम कर रहे है. वहां पर भी 70 संगठन कार्य कर रहे हैं, यह प्रोग्राम 2019 लोकसभा चुनाव और पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव की चर्चा को लेकर किया जा रहा है.
उन्होंने कहा, मैं गांधीवादी नही हूं. मैं बाबा साहेब बी. आर. आंबेडकर को मानने वाला हूं. बाबा साहेब और कांशीराम के आदर्शों पर चलने वाला हूं. हम अपने समाज में आपसी भाईचारा कायम करेंगे. रही बात हिंसा और अहिंसा की, तो पहले हम प्यार से समझाते हैं अगर बात समझ में नहीं आई तो हथियार उठाने में देर नहीं लगाते हैं
बीजेपी पर भी साधा निशाना
राजेंद्र मान ने बीजेपी पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा, “आज के समय में बीजेपी राज कर रही है और बीजेपी का मकसद है कि दलित एससी/एसटी और मुस्लिम समुदाय को दबाया जाए. देश भर में किसी को भी गौ-हत्या के आरोप में मारा जा रहा है, तो कहीं कोई जातिवाद को लेकर मारा जा रहा है. अगर ये लोग हमें हिन्दू मानते हैं तो हमें मंदिरों में क्यों नहीं घुसने देते. हमारे ऊपर क्यों अत्याचार करते हैं हमारे समाज के भाईयों को क्यों मारते हैं, क्यों उनके साथ रेप की घटनाएं बढ़ रही हैं. दलित और मुस्लिमों के ऊपर ही क्यों अत्याचार किया जा रहा है
उन्होंने चंद्रशेखर को अपने समाज का भाई बताते हुए कहा, “यह जिम्मेदारी देश के प्रधानमंत्री और देश की व्यवस्था की है. बहुत ही जल्द हम इस सरकार को बदलने का काम करेंगे. चंद्रशेखर हमारे समाज का भाई है, हम सब मिलकर काम कर रहे हैं और आगे करते रहेंगे. भीम सेना रजिस्टर्ड संस्था है और संविधान के तहत कार्य कर रहा है. भीम आर्मी संगठन अपने हिसाब से कार्य कर रहा है. हर राज्य में भीम सेना और भीम आर्मी मिलकर काम करेगी. भीम सेना चुनाव नहीं लड़ेगी बल्कि चुनाव लड़वाएगी
HTML Snippets Powered By : XYZScripts.com