Headlines

गल्ला व्यवसायी के घर लाखोंं की रुपये की डकैती, विरोध करने पर गोली मारकर कर दी हत्या, बाजार बंद,

गल्ला व्यवसायी के घर लाखोंं की रुपये की डकैती, विरोध करने पर गोली मारकर कर दी हत्या, बाजार बंद,
बेगूसराय(मो.कौनैन अली): रिफाइनरी थाना के महना नूरपुर गांव में डकैती करने पहुंचे 8-10 नकाबपोश अपराधियों ने गल्ला व्यवसायी स्व. गुलाब साह के पुत्र राजेश कुमार साह के घर के पर शुक्रवार की देर शाम लगभग 9.30 बजे उस समय धावा बोल दिया जब उनके गोदाम में मजदूर ट्रक से आये सामान को अनलोड कर रहा था. बेगूसराय शहर के चट्टीरोड में गल्ला के बड़े व्यवसायी राजेश के महना, नूरपुर स्थित घर में प्रवेश करने के बाद डकैतों ने व्यवसायी के पूरे परिवार को बंधक बना लिया. इससे पूर्व डकैतों ने ट्रक से सामान अनलोड कर रहे मजदूरों को पिस्तौल की नोंंक पर अपने कब्जे में कर लिया था.
पूर्णिया: भूमाफियाओं का कहर, मन किया तो मकान खाली करवाने पहुँच गए…..
डकैतों ने थैले में रखे लाखो रुपये नकद और घर में रखे जेवरात लूट लिया. इस दौरान विरोध करने पर व्यवसायी राजेश कुमार साह को दो गोली मारकर हत्या कर दी. गोली लगने के बाद घायल राजेश को अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. घटना की सूचना मिलते ही एसपी अवकाश कुमार के साथ कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंच जांच शुरू कर दी. परिजनों ने बताया कि अपराधी हथियार के साथ घर में लोगों को बंधक बनाकर लूटपाट की. विरोध करने पर राजेश की हत्या गोली मारकर कर दी.
राजेश साह का शहर के चट्टी रोड में गल्ला का बड़ा व्यवसाय है. डकैती के दौरान हत्या की खबर मिलते ही इलाके में सनसनी फैल गई. कड़ाके की ठंड के बावजूद सैकड़ों लोग वहां जमा हो गए. इधर घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने इलाके में घेराबंदी कर दी, लेकिन कोई सुराग नहीं मिला है. एसपी अवकाश कुमार स्वयं मामले की जांच कर रहे हैं. बताया जाता है कि डकैती के दौरान अपराधियों ने जब व्यवसायी के बेटी के साथ बदतमीजी करने की कोशिश की, तो राजेश ने विरोध किया. इसके बाद अपराधियों ने उन्हें गोली मार दी और नकदी रुपये और जेवरात लूट कर फरार हो गए.
ट्रक से सामान उतरने के दौरान ही डकैती ने धावा बोला
मृतक राजेश कुमार साह का दुकान बेगूसराय शहर के चट्टीरोड स्थित वार्ड 22 में कोल्ड स्टोरेज के पास गल्ला का दुकान चलता है और महना नूरपुर में उनकी पत्नी रीना देवी घर पर ही रहकर दुकान चलाती है. वहीं ट्रक से शुक्रवार की लगभग 5:00 सामान आया था. घर में बने गोदाम पर तीन मजदूर को बुलाकर वह सामान अनलोडिंग करा रहा था. ट्रक पर लगभग तेल का 200 डब्बे बचे हुए थे कि इसी दौरान लगभग 9:30 के पास नकाबपोश अपराधियों ने धावा बोल दिया. बताया जाता है कि जब भी मृतक का सामान ट्रक से आता है तो महना निवासी तीन मजदूर रफीक, इसराफिल और उसके एक दोस्त को ही सूचित करके बुलाता था.
22-30 उम्र के थे सभी नकाबपोश अपराधी
मजदूर इसराफिल ने बताया कि सभी अपराधी 22 से 30 के उम्र का था. पहले पूछा तुम्हारा मालिक कहां है तो मजदूर ने बताया अंदर में हैंं. सभी अपराधी के हाथ में देसी कट्टा था. पहले दो हथियारबंद अपराधी ने इसराफिल को दरवाजे के पास बैठा दिया और कहां तुमको नहीं मारेंगे.  एक अपराधी दूसरे मजदूर पर बंदूक तान दिया. फिर 2-4 से चार अपराधी घर में घुस गया और राजेश की पत्नी रीना देवी सहित बेटा-बेटी को घर में बंधक बना दिया. उसके बाद घर में लूटपाट करना शुरू कर दिया. जिसका विरोध करने पर राजेश को गोली मारकर फरार हो गया. मजदूर इसराफिल कुछ दूर तक अपराधियों का पीछे भी किया और बताया सभी अपराधी पैदल मस्जिद की ओर भाग रहा था.
भाई में अकेले था राजेशमृतक भाई में अकेले था. मृतक की पत्नी रीना देवी के अलावा 15 वर्षीय पुत्री अंजली कुमारी और 14 वर्षीय पुत्र अमन कुमार सहित मां फुलेश्वरी देवी घर में मौजूद थी. मृतक के तीन बहन हैंं. सबसे बड़ी बहन बाघी, दूसरी बेबी देवी रमजानपुर और तीसरी पिंकी देवी बखरी में रहती है.
नगर निगम क्षेत्र के जमीन पर चल रहा था विवाद
मृतक व्यवसाय राजेश कुमार साह ने पहले नमक और चीनी की व्यवसाय घर से ही शुरुआत की थी. उसके बाद बेगूसराय के चट्टीरोड स्थित बाजार में लगभग 4 साल से व्यवसाय करना शुरू कर दिया. मृतक के परिजन ने बताया कि दुकान के ऊपर लगभग 6 महीने से गोदाम बनाना चाहते थे. इसी को लेकर आसपास के लोगों से विवाद चल रहा था. कुछ लोगों के माध्यम से गोली मारने की धमकी भी दी गई थी. जिसकी शिकायत नगर निगम सहित डीएम- एसपी को भी शिकायत दी गई थी. लेकिन जांच के उपरांत नगर निगम सहित वार्ड पार्षद से अनुमति नहीं मिल पायी.
हत्यारे की गिरफ्तारी को लेकर बेगूसराय बाजार बंद
खाद्यान्न व्यवसायी संघ के अध्यक्ष राजेंद्र राजा के आह्वान पर शहर के खाद्यान्न व्यवसायी ही नहीं मेन बाजार की सभी दुकानें बंद हैं. व्यवसायी हत्यारे को 24 घंटे के भीतर गिरफ्तार करने की मांग कर रहे हैं. इधर अंतरराष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन के जिलाध्यक्ष डा. राजेश कुमार रोशन व प्रदेश उपाध्यक्ष सह भाजपा के निवर्तमान जिलाध्यक्ष जयराम दास ने भी ह त्याकांड की निंदा करते हुए आक्रोश व्यक्त किया है. उन्होंने कहा कि पूरे वैश्य समाज के लोग बंद मेंं शामिल हैं. हत्यारे की अविलंब गिरफ्तारी नहीं हुई तो हम धरना-प्रदर्शन करेंगे.