Headlines

नाटक नहीं त्वरित कार्रवाई करे सरकार : स्टालिन

नाटक नहीं त्वरित कार्रवाई करे सरकार : स्टालिन
चेन्नई से(जियाउद्दीन अहमद अली सिद्दीकी)संवाददाता की रिपोर्ट चेन्नई पोल्लाची यौन प्रकरण की जांच सीबीआइ से कराने की घोषणा के बाद डीएमके अध्यक्ष एम. के. स्टालिन ने कहा कि इस मामले में नौटंकी के बजाय त्वरित कार्रवाई की जानी चाहिए।डीएमके अध्यक्ष ने बुधवार को वक्तव्य में कहा कि पूरे राज्य को झकझोर देने वाले इस काण्ड में अन्नाद्रमुक सरकार स्वयं को बचाने तथा लोगों को दिग्भ्रमित करने के लिए झूठे उपाय कर रही है मानव रूप में घूम रहे शैतानी गुणों वाले लोगों की पहचान कर कड़ी सजा देने की मांग को लेकर विद्यार्थी व महिला वर्ग प्रदर्शनरत है इस जघन्य अपराध को लेकर अभी तक राज्य के सीएम अथवा डिप्टी सीएम ने जुबान तक नहीं खोली है
स्टालिन ने कहा कि इनके चुप रहने तक की बात नहीं है बल्कि इंसाफ की मांग को लेकर आवाज उठा रहे लोगों को प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं दी जा रही है पुलिस के माध्यम से इन पर कार्रवाई हो रही है
डीएमके अध्यक्ष ने सरकार को आड़े हाथ लिया कि मीडिया की सक्रियता और विपक्षी दल के नेताओं के पुरजोर विरोध के बाद सत्तारूढ़ पार्टी ने हल्की सी कार्रवाई की हालांकि पूरी सच्चाई उजागर नहीं हो जाए इसलिए विपक्षी दल के नेताओं पर दोष मढ़ा जा रहा है उन्होंने आरोप लगाया कि सत्ता पक्ष के तार इस काण्ड से जुड़े होने की वजह से साक्ष्यों को चुपचाप तरीके से मिटाने का प्रयास हो रहा है
स्टालिन ने आगाह किया कि अन्नाद्रमुक सरकार इस प्रकरण के अभियुक्तों को बचाने की करेगी तो जनांदोलन फूट पड़ेगा सरकार इस बात को ठीक तरीके से समझ जाए और कोर्ट में त्वरित सुनवाई कराए ताकि सभी दोषियों को सख्त सजा मिल सके
पुलिस निदेशक पोल्लाची यौन उत्पीडऩ मामले में आरोपियों के खिलाफ करे कार्रवाई
राष्ट्रीय महिला आयोग ने बुधवार को पोल्लाची यौन उत्पीडऩ मामले को संज्ञान में लिया है आयोग ने तमिलनाडु में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर चिंता व्यक्त किया है पोल्लाची यौन उत्पीडऩ मामले पर मीडिया रिपोर्ट और मामले की गंभीरता का हवाला देते हुए राष्ट्रीय महिला आयोग की चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने राज्य पुलिस महानिदेशक टीके राजेंद्रन को सभी आरोपियों के खिलाफ कानून के तहत समुचित कार्रवाई करने का आग्रह किया है और कार्रवाई की रिपोर्ट आयोग को सौंपने को कहा है
इस बीच पीडि़त के वकील ने संवाददाताओं को बताया कि पुलिस ने संदिग्धों को गिरफ्तार कर गुंडा एक्ट के तहत हिरासत में लिया है वकील ने बताया कि हम लडक़ी और उसके परिवार की पहचान छुपाने की कोशिश कर रहे हैं और दूसरी ओर कुछ लोग उनकी निजी जानकारी और उनकी पहचान सार्वजनिक कर रहे हैं उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर राजनीति करने की कोई आवश्यकता नहीं है
जहां तक हमारा सवाल है, पुलिस ने शिकायत पर कार्रवाई की है उल्लेखनीय है कि पोल्लाची में चार युवकों के एक ऐसे गैंग का खुलासा हुआ जो कार के अंदर खींचकर लड़कियों और महिलाओं के साथ यौन शोषण करके उनका वीडियो बनाते थे एक मामले में पड़ताल करते हुए पकड़े गए युवकों के बाद खुलासा हुआ कि वे अब तक इस तरह से लगभग पचास से ज्यादा वारदातों को अंजाम दे चुके हैं उन्होंने स्कूल और कॉलेज की लड़कियों के साथ भी यौन शोषण किया वह इन लड़कियों का वीडियो बनाने के बाद उन्हें ब्लैकमेल करते थे