Headlines

नये जिलाधिकारी के आगमन से शहर की साफ-सफाई व्यवस्था में हुआ सुधार…..

नये जिलाधिकारी के आगमन से शहर की साफ-सफाई व्यवस्था में हुआ सुधार…..
समस्तीपुर(मोहम्मद जमशेद)समस्तीपुर नगरपरिषद के द्वारा पांच-सात दिनों से शहर की सफाई व्यवस्था पर ज्यादा ध्यान दिया जाने लगा है जिससे लगता है की पदाधिकारियों एंव सफाईकर्मियों की मानसिकता में सफाई व्यवस्था को लेकर कुछ बदलाव हुआ है।आखिर इसका कारण क्या है की जो कुड़ा-कचरा रोजाना सफाईकर्मियों द्वारा नहीं उठाया जाता था वो शाम में भी उठाया जाने लगा हैं।
जिस सड़क गली में सुबह सात बजे तक झाड़ू नहीं पड़ता था उस सडक़,गली में  पौं फटते ही सफाईकर्मी लग जाते है सफाई अभियान में और झाड़ू बुहारने के बाद ब्रीचिंग पाउडर का भी छिड़काव किया जाने लगा है।
       मालूम हो की पूर्व में मीडिया दर्शन ने “समस्तीपुर शहर कुडे़ के ढ़ेर पर” शीर्षक से समाचारपत्र में आलेख प्रकाशित करते हुऐ नगरपरिषद के कार्यपालक पदाधिकारी से मिलकर शिकायत करते हुए इस विषय पर अस्पष्टीकरण लिया गया था उस दिन उनके द्वारा मीडिया दर्शन से वादा किया गया था कि आपको शहर अब गंदा नहीं दिखाई देगा थोड़ा धैर्य रखने का काम हैं। जिससे लगता है की ये सब शायद नये जिलाधिकारी दिवेश सेहरा के आगमन और इनके कर्तव्यनिष्ठा के बारे में कर्मचारियों को पुर्वानुमान हैं इस कारणवश धीरे धीरे नगरपरिषद प्रशासन अपने सफाईकर्मियों के साथ ही शहर को कचरें से मुक्त करने का प्रयास और शहर को कचरे की ढे़र से निकालने का अथक प्रयास की शुरूआत किया गया है।
      बताया जाता है की आज शाम के करीब छ: बजे कचहरी रोड में नगरपरिषद के सफाईकर्मियों द्वारा सांध्यकाल में कचरा उठाया जा रहा हैं ।पूर्व की कार्यशैली के बारे में ग्यात है की सुबह में जो कुड़ा-कचरा, झाड़ू बुहारू सात बजे से यदा कदा किया एंव कचरा उठाया जाता था वो अब रोजाना उठाया जाने लगा हैं वो भी पौं फटते ही आखिर ऐसा परिवर्तन हुआ कैसे समस्तीपुर शहर वासियों में चर्चा का विषय बन रहा है।लोगों में चर्चा है कि चुनाव है और भाजपा के वरिष्ठ नेताओं का शहर में आगमन जो होने वाला है शायद इसलिए शहर को सौन्दर्यीकरण करने का अथक प्रयास किया जा रहा है जिससे कि स्वच्छता अभियान का पोल ना खुल सके।कचरा उठा रहे सफाईकर्मी से सांध्यकाल समय में कचरा उठाने संबंधी पुछे जाने पर बताया गया कि हमलोगों को कहा गया है कि इस रुट पर पड़े कुडे़-कचरे को यथाशीघ्र उठाया जाए इसलिए इस समय भी कचरा उठा रहे हैं ।