सीतामढ़ी : ऑल इंडिया मिल्ली काउंसिल की एक बैठक जिला के अमन विहार होटल में आयोजित की गई 

मुसलमानों को हक़ व हक़ूक़ के लिए लड़ने को तैयार रहना चाहिए : मौलाना मुफ़्ती अनीसुर्रहमान क़ासमी

सीतामढ़ी से कलीम अख्तर शफीक की रिपाेर्ट
आज जिला के अमन विहार होटल में ऑल इंडिया मिल्ली काउंसिल की एक बैठक आयोजित की गई, जिसकी अध्यक्षता मिल्ली काउंसिल के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मौलाना मुफ़्ती अनीसुर्रहमान क़ासमी ने किया। बैठक में केंद्र सरकार द्वारा लागू नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), एनपीआर और एनआरसी से देशवासियों को होने वाली परेशानियों पर विस्तृत चर्चा हुई। साथ ही जिला में मिल्ली काउंसिल के संगठन को मजबूत बनाने का सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया।
मिल्ली काउंसिल के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मौलाना मुफ़्ती अनीसुर्रहमान क़ासमी ने कहा कि मुसलमानों को हक़ व हक़ूक़ के लिए लड़ने को तैयार रहना चाहिए, वरना हमारी हालत भी फिलिस्तीन और बोखारा के मुसलमानों जैसी हो जाएगी। सीएए, एनपीआर और एनआरसी को लेकर देशभर में शांतिपूर्ण ढ़ंग से जो आंदोलन चल रहे हैं, उससे लोकतंत्र को मजबूती मिली है। इन काले कानूनों से देश के हर नागरिक को परेशानी होगी और संविधान पर विश्वास रखने वाले लोग कभी कबूल नहीं कर सकते। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में सरकार को जनता की आवाज़ सुननी चाहिए।
बैठक को मिल्ली काउंसिल बिहार के आर्गेनाइजर मिर्ज़ा ज़की अहमद बेग, नाफ़े आरफी, राजद के प्रदेश उपाध्यक्ष शफ़ीक़ खान, सीतामढ़ी संघर्ष समिति के अध्यक्ष मो.शम्स शाहनवाज़, मौलाना अब्दुल वदूद मज़ाहिरी, मौलाना इश्तियाक आलम, मो.मुर्तुज़ा, मौलाना अफाक अहमद, कारी सोहेब खान, मौलाना मो.रिज़वान, सिकंदर हयात खान, मो. आमिर, तौक़ीर अनवर, अफ़रोज़ आलम, मो.नसीम आलम, मो. हसनैन,
कलीम अख्तर शफ़ीक़ आदि ने भी संबोधित किया।