Headlines

गाजीपुर:बरसात आते ही नाले मे तब्दील होने लगी मनोज सिन्हा के विकास की गंगा

गाजीपुर:बरसात आते ही नाले मे तब्दील होने लगी मनोज सिन्हा के विकास की गंगा

पूर्व रेल व संचार मंत्री मनोज सिन्हा ने अपने सैकड़ों अनुयायिय़ो समेत एक बडे भव्य सरकारी कार्यक्रम मे दिलदार नगर जक्शन क़ो आर्दश बनाने की घोषणा करते हुए करोड़ों के काम गिनती करा दिया।और तालियाँ भी बजवायी लेकिन दो साल के अंदर ही बखिया उखडने लगी।स्टार न्यूज़ टुडे संवाददाता की इस्क्लूशिव रिपोर्ट।

राकेश पाण्डेय

विकाश पुरूष मनोज सिन्हा ने जिस रेलवे स्टेशन को आर्दश बनाने के लिए करोड़ों रुपये खर्च कर दिया उस स्टेशन की छतें झरना बन गयी है।यहा यात्रियो को वाशरूम तक मुहैया नही हो पाया है बावजूद इसके बिभागीय अफसर का बेहयाई से रेल मंत्री के विकास पर उगली उठाना विकास के नाम पर कोरम अदायगी का जीता जागता उदाहरण है।

इतनी जल्द कैसे खराब हो गये लाखों की लागत से बने वीआईपी शेड

आदर्श स्टेशन दिलदारनगर जंक्शन का स्थानीय रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म न 1 व 2 पर यात्रियों के लिए नई सेड बनी है जो मानसून की पहली बारिश को नही झेल पाई और झरना की तरह चुने लगी जिसके चलते ट्रेनों की प्रतीक्षा कर रहे यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ गया यात्री भीगने से बचने के लिए सुरक्षित ठौर की तलाश में भटकते नजर आए।

गजब हाल,बिना शौचालय के ही आर्दश का दर्जा दे दिये सरकार

मॉडल स्टेशन का हालात यह है कि प्लेटफार्म संख्या 1 व 2 व 3 पर बने हुये टीन शेड भी बरसात में झरना बन जा रहे है प्लेटफार्म संख्या 2और 3 पर शौचालय की सुविधा उपलब्ध नहीं कराए जाने से बुजुर्ग महिला पुरूष व बिकलांग बीमार यात्रियों को भारी असुविधा का सामना करना पड़ता है।

मनोज जी विभागीय अनदेखी या ठेकेदार ने कर दिया गोलमाल

इस सम्बंध में पूछे जाने पर सहायक मण्डल रेल अभियंता बक्सर हंसराज मीणा ने बताया कि सभी टिन सेडो का मरम्मत तत्काल करा दिया जाएगा रहा प्रश्न प्लेटफार्म संख्या 2 और 3 पर शौचालय निर्माण कार्य का तो उसके लिए प्रस्ताव बनाकर दानापुर मण्डल मुख्यालय को भेज दिया गया है मंजूरी मिलते ही काम लगा दिया जायेगा।

मनोज सिन्हा ने विकास के साथ अनदेखी का भी बनाया रिकॉर्ड

जब विकास पुरुष का आर्दश स्टेशन ही 2 साल मे ही मरम्मत की हालत मे आ गया हो।और शौचालय का प्रस्ताव ही अब भेजा गया हो जब मंत्री जी का पद व विभाग दोनों ना हो तो यह बात साफ जरूर हो जाती है कि विकास ही नही अनदेखी की हदे भी पार करने मे भी विकास पुरुष ने इतिहास रचने का काम किया है।

HTML Snippets Powered By : XYZScripts.com