दिल्ली में आई AAPपार्टी तो मुश्किल होगी कांग्रेस पार्टी की वापसी,कांग्रेस को चिंता

Delhi assembly elections 2020

सौ:हिंदुस्तान लाइव

दिल्ली में एग्जिट पोल के नतीजों के विपरीत कांग्रेस नेताओं ने जीत का भरोसा जताया है लेकिन वे चिंतित हैं कि अगर राज्य में आम आदमी पार्टी को जीत में दिल्ली में उनकी पार्टी के पुनर्जीवित होने के प्लान को धक्का लगेगा।  कांग्रेस नेता पीसी चाको और कीर्ति आजाद ने रविवार को एग्जिट पोल के नतीजों को खारिज करते हुए कहा कि पार्टी इससे कहीं बेहतर करेगी। चाको ने कहा कि हमने छत्तीसगढ़ और झारखंड के एग्जिट पोल भी देखे थे। सर्वे में जो दिख रहा है हम उससे कहीं बेहतर करेंगे। हम नहीं कहते कि हमें बहुमत मिलेगा लेकिन हमारी पोजीशन बेहतर होगी। वहीं आजाद ने भी हरियाणा के एग्जिट पोल का जिक्र करते हुए एग्जिट पोल के नतीजों को खारिज किया।

उन्होंने कहा कि हरियाणा के एग्जिट पोल में कहा गया था कि हरियाणा को केवल 3 सीटें मिलेंगी लेकिन हमें 31 सीटें मिलीं। उसी तरह राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में बीजेपी की सरकार बनने की भविष्यवाणी की गई लेकिन तीनों जगह हमारी सरकार आई।  मैं आश्वस्त हूं कि हमें अच्छी संख्या में सीटें मिलेंगी।

वहीं नाम न उजागर करने की शर्त पर एक कांग्रेस नेता ने कहा कि पार्टी कई सीटों पर अच्छी स्थिति में थी लेकिन केजरीवाल के सामने मुख्यमंत्री का सही चेहरा हमारे पास नहीं है। हमें कोई चेहरा रखना चाहिए था। आज के समय में मतदाता केजरीवाल के सामने सीएम के किसी और चेहरे को देखना चाहते हैं। हम केवल अपने इतिहास के बल पर चुनाव नहीं लड़ सकते। अतीत अतीत है। लोग दिल्ली के विकास के लिए भविष्य की योजनाएं जानना चाहते हैं। 2013 में हम बिजली और पानी के चलते हारे थे और आप अब बिजली और पानी के ही मुद्दे पर वापस आई।