शेरघाटी की सड़कें व बस स्टैंड की हालत खस्ता: रावण

 

आमस

आज़ादी के बाद से हमारे मुल्क़ हिंदुस्तान के नेता गरीबी हटाने और मिटाने के नाम पर सत्ता में क़ाबिज़ रहे परन्तु ग़रीबी को मिटाते और हटाते वह अमीर बन गए। इन नेताओं ने बिहार को साजिशन पिछड़ा बनाया है। यही कारण है कि यहाँ की जनता को अन्य राज्यों में जाकर मज़दूरी करना पड़ता है। जहाँ हमारे बिहारी भाइयों को शोषण का शिकार होना पड़ता है। जबकि बिहारियों में टैलेंट की कोई कमी नहीं है। कल-कारखाने नहीं होने के कारण ही उन्हें मजबूरन दूसरे प्रदेशों में जाना पड़ता है। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। आज़ाद समाज पार्टी बिहारियों को गर्व से जीने का हक़ और रोजगार दिलायेगा। उक्त बातें भीम आर्मी प्रमुख व आज़ाद समाज पार्टी के संस्थापक चंद्रशेखर आज़ाद उर्फ रावण ने प्रखण्ड के हमज़ापुर में आयोजित कार्यकता सम्मेलन में कही। कार्यकर्ताओं से मुखातिब होकर उन्होंने कहा कि बहुजन व मुस्लिम भाइयों को अब एक होना होगा। भाजपा और आरएसएस के एनआरसी, सीएए, एनपीआर जैसे नापाक मंसूबों को हमलोगों ने नाकामयाब बनाया है। इसी तरह मान्यवर कांशीराम के सिद्धांतों चलकर टुकड़ों में बंटे बहुजनों को एक करना है तथा आरएसएस के मंसूबों पर पानी फेर देना है। अब वक़्त आ गया है दूसरों के सामने हाथ फैलाने के बजाय आज़ाद समाज पार्टी को मज़बूत करने का। रावण ने सत्ताधारी पार्टी और भाई भतीजावाद पर भी जमकर भड़ास निकाली। कहा कि सुशाशन की सरकार का पोल शेरघाटी की बदहाल सड़कें और यहाँ की खस्ता बस स्टैंड ही खोल रही है। वहीं आसपा के प्रदेश अध्यक्ष जौहर आज़ाद, प्रभारी मनोज भारती ने कहा कि हिन्दू-मुस्लिम की राजनीति से हटकर आसपा देश की एकता और अखंडता की बात करती है। आपलोग इसे मज़बूत करें। यह आपकी हक़ और बराबरी की बात करता है। इस मौके पर अजीज शाह, आजम खान, सादिक सलार, शमशेर आलम, रंजन प्रकाश, संजीव राम, परवेज़ खान, अरशद हुसैन, मन्नान खान, डॉ कृष्णन्दन, विष्णुदेव चौधरी, संतोष कुमार, रंजन, नदीम खान समेत सैंकडों लोग मौजूद रहे। इस दौरान मंच का संचालन डॉ कलीम अंसारी ने किया।