Headlines

व्यवस्था परिवर्तन के लिए आंदोलन की जरूरत: ललन पासवान।

व्यवस्था परिवर्तन के लिए आंदोलन की जरूरत: ललन पासवान।

समस्तीपुर (मोहम्मद जमशेद) रालोसपा अरुण गुट के प्रदेश अध्यक्ष ललन पासवान विधायक ने गुरुवार को यहां कहा कि 1974 के आंदोलन में तत्कालीन लाल फीता शाही इंदिरा गांधी की सरकार के खिलाफ लोक नायक जय प्रकाश नारायण के नेतृत्व में लोक तंत्र बचाने के जो आंदोलन चलाए गए और लोगों का जो सहयोग मिला वह आजतक के किसी आंदोलन में नही मिला। उन्होंने कहा कि हम सत्ता परिवर्तन में सफल हो गए लेकिन व्यवस्था परिवर्तन में आजतक सफल नही हो सके। उन्होंने कहा कि आज पूरे देश मे विकास तेजी से हो रहा है लेकिन उस अनुपात में विचार मर रहे हैं। राजनीति से लोगों का विश्वाश
समाप्त हो रहा है पार्टियाँ जाति और व्यक्ति पर आधारित होती जा रही है। सिद्धान्तों को ताक पर रख दिया गया है चरित्र और शिष्टाचार समाप्त हो रहे हैं जिससे लोक तंत्र कमजोर होता दिख रहा है। उन्होंने कहा कि ज्ञान यदि हो भी और चरित्र नही हो तो सब बेकार हो जाते हैं। पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि वे उनकी पार्टी एन डी ए के साथ है और रहेगी उन्होंने कहा कि आगामी 29 अक्टूबर को पटना में एक बैठक आयोजित की गई है जिसमे एन डी ए तथा पार्टी को मजबूत बनाने में विचार किया जाएगा। वे जेपी के जयंती समारोह में भाग लेने के बाद संवाददाताओं सम्बोधित कर रहे थे। मौके पर नरेंद्र कुशवाहा, विनोद चौधरी निषाद,नवीन कुमार सिंह, उपेंद्र जायसवाल,विनोद कुशवाहा,शम्भू कुशवाहा, मनोज लाल दास मनु,कुणाल राम आदि मौजूद थे।